किरण सिंह को विजय वर्मा कथा सम्मान, सुमीता प्रवीण केशवा को हेमंत स्मृति कविता सम्मान

2018-12-05T22:46:10+00:00

भोपालः हर साल हेमंत फाउंडेशन द्वारा कथा और कविता के क्षेत्र में प्रदान किए जाने वाले पुरस्कारों की घोषणा हो गई है. इसके तहत 20वां विजय वर्मा कथा सम्मान लखनऊ की किरण सिंह को उनके कहानी संग्रह 'यीशू की कीलें' के लिए देने की घोषणा हुई है. निर्णायकमंडल के सदस्यों की नजर में इस संग्रह  की सभी कहानियां अपने वर्तमान समय से न केवल टकराती हैं, बल्कि आज के दौर की ज़मीनी सच्चाई को भी उजागर करती हैं. किरण सिंह की खासियत यह है कि वह  अपनी हर कहानी पर एक नई भाषा के साथ जूझती नज़र आती हैं. उनके  पास कथा कहने की एक गहरी समझ है, जो पाठकों को अपनी ओर खींचती है, उनकी कहानियाँ पढ़कर सहज ही समझ में आता है कि अपने विषय और पात्रों पर उनकी कितनी गहरी पकड़ है.
 
इसी तरह 17वां हेमंत स्मृति कविता सम्मान मुंबई की सुमीता प्रवीण केशवा को उनके कविता संग्रहचाय की चुस्कियों में तुमपर देने का निर्णय लिया गया है। सुमीता की कविताओं के लिए कहा जा सकता है आज तक नारी जिन समस्याओं को झेलती आई है ,उनकी कविताओं ने न केवल उन समस्याओं के उत्तर ढूंढे हैं बल्कि, उन समस्याओं को लेकर हार नहीं मानी है. उनकी कविताओं में स्त्री विमर्श है, जिसमें असीम दर्द, करुणा और हर परिस्थिति में सकारात्मक परिवर्तन लाने की जद्दोजहद दिखती है. संस्था की संस्थापक अध्यक्ष डॉ संतोष श्रीवास्तव तथा महासचिव डॉ प्रमिला वर्मा ने यह घोषणा की है. यह सम्मान सुमीता प्रवीण केशवा से पहले डॉ. राकेश पाठक, बोधिसत्व, संजय कुंदन, वाजदा खान, आलोक श्रीवास्तव, हरि मृदुल, लीना मल्होत्रा, एकांत श्रीवास्तव, हरे प्रकाश उपाध्याय, यतीन्द्र मिश्र, कृष्णमोहन झा, रीता दास राम आदि को मिल चुका है. पुरस्कार संयोजक भारत भारद्वाज ने दोनों लेखकों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है. यह समारोह  2 फरवरी, 2019 को राजस्थान के जेजेटी विश्वविद्यालय, विद्या नगरी, चुरू में  मुख्य अतिथि प्रबोध कुमार गोविल, अध्यक्ष मीठेश निर्मोही, सारस्वत अतिथि डॉ विनोद टीबड़ेवाला और आमंत्रित लेखकों, साहित्यकारों की उपस्थिति में होगा.

About the Author:

Leave A Comment