About admin

This author has not yet filled in any details.
So far admin has created 2998 blog entries.

केकी एन दारूवाला के व्यक्तित्व-कृतित्व पर प्रकाशित पुस्तक पर चर्चा, वक्ताओं ने कहा वे आम जनता के कवि

नई दिल्ली: साहित्य अकादेमी ने अंग्रेजी के प्रख्यात लेखक केकी एन दारूवाला पर उषा अकेला के संपादन में आई पुस्तक 'ए हाउस आफ वर्ड्स' पर एक परिचर्चा का आयोजन किया. आभासी मंच [...]

2024-07-16T14:02:14+05:30

साहित्य अकादेमी ने वयोवृद्ध साहित्यकार प्रो रामदरश मिश्र की जन्मशती पर संगोष्ठी आयोजित की

नई दिल्ली: साहित्य अकादेमी ने वयोवृद्ध साहित्यकार प्रो रामदरश मिश्र की जन्मशती के अवसर पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया, जिसका उद्घाटन ज्ञानपीठ से सम्मानित गुजराती के प्रख्यात लेखक और साहित्य [...]

2024-07-16T14:02:04+05:30

संवाद की भारतीय अवधारणा पर काम करते हुए लोक-मंगल को केंद्र में रखना होगा: प्रो संजय द्विवेदी

भोपाल: मीडिया शिक्षक और लेखक प्रो संजय द्विवेदी को 'सरस्वती प्रज्ञा सम्मान -2024' से सम्मानित किया गया है. स्थानीय  गांधी भवन में जन संगठन दृष्टि और निर्दलीय प्रकाशन की ओर से आयोजित [...]

2024-07-16T14:01:56+05:30

भारतीय संस्कृति प्रकृति के अनुकूल, हमारे दर्शन में धरती को माता और आकाश को पिता कहा गया है: राष्ट्रपति मुर्मु

भुबनेश्वर: "भारतीय संस्कृति ने हमेशा प्रकृति के अनुकूल जीवनशैली पर जोर दिया है. हमारे दर्शन में धरती को माता और आकाश को पिता कहा गया है. यहां तक कि नदी को [...]

2024-07-16T13:59:26+05:30

संस्कृति मंत्रालय ने 46वीं विश्व धरोहर समिति की बैठक के लिए भारत की सार्वजनिक कला परियोजना शुरू की

नई दिल्ली: भारत लंबे समय से कलात्मक अभिव्यक्ति का एक जीवंत केंद्र रहा है, जिसका देश की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक विविधता को दर्शाते हुए लोक कला का समृद्ध इतिहास है. प्राचीन [...]

2024-07-16T13:59:15+05:30

पं गोपबंधु दास राष्ट्रवाद और लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास करते थे: उत्कलमणि की 96वीं पुण्यतिथि पर राष्ट्रपति मुर्मु

भुबनेश्वर: "यह मायने नहीं रखता कि कोई व्यक्ति कितना लंबा जीवन जीता है, बल्कि यह मायने रखता है कि वह कैसा जीवन जीता है. यानी किसी व्यक्ति की प्रतिष्ठा का मूल्यांकन समाज [...]

2024-07-16T13:59:07+05:30

कला, संस्कृति और साहित्यिक क्षेत्रों में विविधता समाज को जोड़ती और प्रेरित करती है: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा

श्रीनगर: जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने राज्य के लोगों और देशवासियों से कला, संस्कृति और साहित्यिक क्षेत्रों में विविधता का जश्न मनाने का आह्वान किया. श्रीनगर में जम्मू [...]

2024-07-16T13:58:57+05:30

ऐतिहासिक घटनाओं से संबंधित विसंगतियों के चलते इसका संशोधन एवं पुनर्लेखन जरूरी: डा चेतराम गर्ग

शिमला: "भारत के इतिहास को समझने के लिए गांव के इतिहास, लोक संस्कृति, परंपराओं, जनजीवन और सामाजिक व्यवस्थाओं को समझना बहुत जरूरी है." यह बात स्थानीय गेयटी थियेटर सभागार में ठाकुर राम सिंह इतिहास शोध [...]

2024-07-16T13:58:42+05:30

राज्यपाल आर्लेकर ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर आधारित ‘राजनीति विज्ञान के सिद्धांत’ पुस्तक का किया विमोचन

छपरा: बिहार के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के नए पाठ्यक्रम पर आधारित पुस्तक 'राजनीति विज्ञान के सिद्धांत' का विमोचन किया. इन पुस्तकों का लेखन छपरा जिले की दो बहुओं [...]

2024-07-16T13:55:55+05:30

रचनाकार के लिए विचार और परिकल्पना मुख्य, यह सामाजिक यथार्थ और मूल्यबोधों से उत्पन्न होती है: सुभाष पंत

देहरादून: दून पुस्तकालय एवं शोध केंद्र में साहित्यकार सुरेश उनियाल द्वारा संपादित पुस्तक 'मेरा कमरा' भाग-2 का विमोचन हुआ. इस पुस्तक में हिंदी के 17 श्रेष्ठ रचनाकारों के 'कमरे' के इर्दगिर्द घूमती विचार शृंखला को अत्यंत रोचक [...]

2024-07-16T13:55:43+05:30
Go to Top